केन्द्रीय कृषि मंत्री द्वारा आजादी की 75वीं वर्षगांठ तक किसानों को सशक्त बनाने और नव भारत का निर्माण करने का आह्वान

केन्द्रीय कृषि मंत्री द्वारा आजादी की 75वीं वर्षगांठ तक किसानों को सशक्त बनाने और नव भारत का निर्माण करने का आह्वानकेन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने आजादी की 75वीं वर्षगांठ तक देश के कृषकों को सशक्त बनाने के लिए उनकी आय को दोगुना कर नव भारत का निर्माण करने हेतु देश के कृषि वैज्ञानिकों का आह्वान किया है। यह बात श्री राधा मोहन सिंह भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के अंतर्गत कार्यरत कृषि ज्ञान प्रबंध निदेशालय (डीकेएमए) द्वारा ‘भारत में कृषि ज्ञान प्रबंधन पर मार्गदर्शिका के विकास‘ विषय पर आयोजित दो दिवसीय कार्यशाला के अंतिम दिन अपने संबोधन में कही।

इस अवसर पर डा. त्रिलोचन महापात्र, सचिव, डेयर एवं महानिदेशक, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद; श्री एस. एन. त्रिपाठी, अपर सचिव, डेयर एवं वित्त सलाहकार, भाकृअनुप; डा. ए. के. सिंह, उपमहानिदेशक (कृषि विस्तार); डा. जे. के. जैना, उपमहानिदेशक (मात्स्यिकी); डा. अजीत मारु, पूर्व विशेषज्ञ, एफएओ; डा. रामेश्वर सिंह, कुलपति, बिहार पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय; डा. एस. के. सिंह, परियोजना निदेशक, डीकेएमए सहित अन्य कृषि वैज्ञानिक भी उपस्थित थे।

उन्होंने बताया कि कृषि सूचना के महत्व को समझते हुए 1994 में ही भारत में कृषि सूचना के प्रबंधन के लिए परिषद द्वारा एरिस प्रकोष्ठ की स्थापना की गई थी, लेकिन अब एक बार पुनः इसकी समीक्षा कर इस सूचना प्रणाली को अधिक प्रभावी बनाए जाने की जरूरत है।

Read More....

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् द्वारा स्नातक उपाधि के लिए 22वीं आखिल भारतीय प्रवेश परीक्षा (AIEEA-UG-2017) 13 मई, 2017 (शनिवार) तथा परास्नातक उपाधि एवं छात्रवृत्ति (AIEEA-PG-2017) तथा Ph.D. में प्रवेश एवं कनिष्ठ/वरिष्ठ अनुसंधान अध्येतावृत्ति AICE-JRF/SRF(PGS)-2017 हेतु परीक्षाएं 14 मई, 2017 (रविवार) को आयोजित की जाएंगी I

जारी...

नई सोच को साझा करें

कृषि के विभिन्न उप-क्षेत्रों में विकास व अनुसंधान योग्य विषयों से सबंधित सुझाव तथा नवोन्मेषी आमंत्रण स्वीकार किये जा रहे हैं

जारी...